‘sooraj-has-nothing-to-do-with-sushant’s-case’
which-tiger,-paper-or-circus:-nath-mocks-scindia
jiomeet-vs-zoom:-here’s-what-is-similar-and-not
सैनिकों-का-मनोबल-बढ़ा-लेकिन-चीनी-अतिक्रमण-नकारा-नहीं-जा-सकता:-अधीर-रंजन
बिहार-विधानसभा-चुनाव-को-लेकर-सभी-38-जिलों-में-दो-लाख-बैलेट-यूनिट-की-जांच-शुरू
बिहार-विधानसभा-चुनाव-को-लेकर-संगठन-मजबूत-करने-में-जुटी-भाजपा
पाकिस्तान-के-विदेश-मंत्री-शाह-महमूद-कुरैशी-कोरोना-पॉजिटिव,-बोले-मेरे-लिए-दुआ-कीजिए
कानपुर-कांड:-आरोपी-विकास-दुबे-की-मां-बोलीं-पुलिस-पकड़कर-कर-दे-एनकाउंटर,-उसने-बहुत-बुरा-किया-है
श्रीनगर-में-आतंकी-अपना-आधार-नहीं-बनाएं,-इसका-ध्यान-रख-रहें-है-सुरक्षा-बल:-पुलिस-महानिरीक्षक
केंद्र-की-सुप्रीम-कोर्ट-में-अपील-इटली-के-नौसैनिकों-के-खिलाफ-केस-बंद-हो;-इंटरनेशनल-कोर्ट-ने-इसे-भारतीय-कानून-से-बाहर-बताया-है
वियतनाम-और-फिलीपींस-ने-कहा-इससे-पड़ोसी-देशों-के-साथ-रिश्ते-खराब-होंगे,-अमेरिका-ने-कहा-क्षेत्र-में-तनाव-बढ़ने-का-खतरा
Saturday, July 4, 2020
33 °c
Delhi
32 ° Sun
31 ° Mon
30 ° Tue
30 ° Wed

Shreemad Bhagwad Gita – Chapter 4

shreemad Bhagwad Gita

अथ चतुर्थोऽध्यायः- ज्ञानकर्मसंन्यासयोग ( सगुण भगवान का प्रभाव और कर्मयोग का विषय ) श्री भगवानुवाच इमं विवस्वते योगं प्रोक्तवानहमव्ययम्‌ । विवस्वान्मनवे प्राह मनुरिक्ष्वाकवेऽब्रवीत्‌ ॥ भावार्थ : श्री भगवान बोले- मैंने...

Read more

Shreemad Bhagwad Gita – Chapter 3

shreemad Bhagwad Gita

अथ तृतीयोऽध्यायः- कर्मयोग (ज्ञानयोग और कर्मयोग के अनुसार अनासक्त भाव से नियत कर्म करने की श्रेष्ठता का निरूपण) अर्जुन उवाच ज्यायसी चेत्कर्मणस्ते मता बुद्धिर्जनार्दन । तत्किं कर्मणि घोरे मां नियोजयसि...

Read more

Shreemad Bhagwad Gita – Chapter 2

shreemad Bhagwad Gita

अथ द्वितीयोऽध्यायः- सांख्ययोग ( अर्जुन की कायरता के विषय में श्री कृष्णार्जुन-संवाद ) संजय उवाच तं तथा कृपयाविष्टमश्रुपूर्णाकुलेक्षणम् । विषीदन्तमिदं वाक्यमुवाच मधुसूदनः ॥ भावार्थ : संजय बोले- उस प्रकार करुणा...

Read more

Shreemad Bhagwad Gita – Chapter 1

shreemad Bhagwad Gita

अथ प्रथमोऽध्यायः- अर्जुनविषादयोग श्रीकृष्णार्जुनसंवादेऽर्जुनविषादयोगो नाम प्रथमोऽध्यायः। ॥1॥ ॐ तत्सदिति श्रीमद्भगवद्गीतासूपनिषत्सु ब्रह्मविद्यायां योगशास्त्रे भावार्थ : संजय बोले- रणभूमि में शोक से उद्विग्न मन वाले अर्जुन इस प्रकार कहकर, बाणसहित धनुष को...

Read more

Shreemad Bhagwad Gita

shreemad Bhagwad Gita

कल्याण की इच्छा वाले मनुष्यों को उचित है कि मोह का त्याग कर अतिशय श्रद्धा-भक्तिपूर्वक अपने बच्चों को अर्थ और भाव के साथ श्रीगीताजी का अध्ययन कराएँ। भावार्थ : ब्रह्मा,...

Read more
  • Trending
  • Comments
  • Latest

Recent News

Login to your account below

Fill the forms bellow to register

Retrieve your password

Please enter your username or email address to reset your password.